भारत जो की दुनिया का सातवा सबसे बड़ा देश है , और दूसरा सबसे बड़ी जनसंख्या वाला देश है | यहाँ पर लगभग अस्सी प्रतिशत लोग हिन्दू धर्म को मानते है | हिन्दू धर्म जो की दुनिया का सबसे पुराना धर्म है और हिन्दू मान्यताओं के अनुसार इनके भगवान् कोई कहानी नहीं है बल्कि वो एक सच है | एक ऐसा सच जो कभी धरती पे हुआ करता था, या फिर आज भी है सभी भगवानो की एक अलग कहानी है, एक अलग संस्कृति है, जिसे हम मानते है | बहुत से हिन्दू धर्म का पालन करने वाले लोग मानते है की भगवान् असली है, उनका भी एक रूप है, फिर चाहे वो कभी दिखाए न दिए हो | दुनिया के दूसरे लोगो के मुकाबले हिन्दू धर्म मानने वाले यह मानते है की भगवान् असली है |


    आज हम बात करेंगे अपने भूतकाल की और थोड़े बहुत इतिहास की | हमारे भूतकाल में कुछ तो ऐसा था जो हमें आज तक पता नहीं है, या फिर अगर पता भी है तो इतना ज्यादा नहीं की हम निश्चिन्त होकर कह सके की हारे पूर्वज कौन थे | और इसके भी आगे हमारे उन पूर्वजो का इतिहास जिनको हम भगवान् के रूप में भी जानते है | उनमे भी कुछ ऐसे है जिनको हम जानते है और कुछ ऐसे जिनको हम नहीं जानते | लेकिन हमें इतना तो विशवास है की वो यहाँ आये थे और कही न कही से वो हमपर नज़र रखे हुए है | और शायद ऐसा भी हो सकता है की वो अब भी यहाँ आते हो और इंसानो के संपर्क में भी हो |


    एक सवाल की इंसान का अंतरिक्ष में जाना किसी भी तरह से फायदेमंद है या नहीं | यह बात तो सबके मन में आती होगी की धरती की समस्याओ को पहले सुलझाओ और उसके बाद आगे की सोचो , क्योंकि धरती पर भी बहुत साड़ी समस्याएं है जिनको सुलझाना बहुत जरूरी है |


    Damascas के उत्तर में Baalbeck की छत है , यह एक प्लेटफार्म की तरह है जो की पूरे पत्थरो से बना है | इसके किनारे 65 फ़ीट लम्बे और वजन करीब 2000 टन के आस पास है | और अभी तक वैज्ञानिक और खगोलशास्त्री यह नहीं बता पाए है की किसका निर्माण क्यों किया गया है | रूस के एक प्रोफेसर जिनका नाम Agrest है उन्होंने आशंका जताई है की यह जगह एक space center हो सकता है |